Connect with us

events

भावनाओं और संवेदनाओं की एक शाम ओपन माइक के “हमारे अल्फाज” में

Published

on

463 Views

रविवार को ओपन माइक के मंच पर भावनाओं और संवेदनाओं की जोड़ी देखने को मिली. दरअसल, दुनिया में ऐसे कई लोग होते है जो की दुनिया में मिसाल बनने के लिए ही जन्म लेते है. उनमें से एक हैं जॉन एलिया. जिन्होंने अपनी जिन्दगी शायद ये सोच के नहीं बिताई थी की एक दिन दुनिया भर में उनको पढ़ने वाले इतने हो जायेंगे.

इसी क्रम में राजधानी के पटना मुस्लिम हाई  स्कूल (CBSE ) में “हमारे अल्फाज” नाम के एक ग्रुप ने जॉन-एलिया की याद में ओपन माइक का आयोजन किया. इस मौके पर नई पीढ़ी के साहित्य प्रेमी युवाओं ने कई स्वरचित कविताएं मंच पर साझा की. कार्यक्रम के दौरान कई युवाओं ने जॉन एलिया के प्रति अपनी भावनाओं  को अपने शब्दों में पिरोने की कोशिश की. पूरे कार्यक्रम की निजामत मो. नसीम अख्तर के द्वारा बड़ी ही खूबसूरती से की गईं. मुख्य अतिथि के रूप में नसर आलम साहब भी मौजूद थे. जिन्होंने अपनी गजलों से जबरदस्त समां बांध दिया.

दिल से दिमाग पर हावी हुई मोहब्बत की दास्ताँ है रब तुझमे दीखता है फिल्म

दिल से दिमाग पर हावी हुई मोहब्बत की दास्ताँ है रब तुझमे दीखता है फिल्मएसिड अटैक पर बनी रब तुझमे दीखता है फिल्मरब तुझमे दीखता है फिल्म का प्रमोशन के लिए हुआ प्रेस कॉन्फ्रेंस साथ ही साथ आने वाली फिल्म डी जे का भी किया एलान अब अश्लीलता को छोड़ पारिवारिक फिल्म की प्रगति पर है भोजपुरी सिनेमा मोहब्बत को देखने का एक अलग नजरिया रब तुझमे दीखता है फिल्म दिखाएगा

Bihari Mati यांनी वर पोस्ट केले मंगळवार, २६ मार्च, २०१९

सईद हामीद रजा ने “गुलशन हिन्द” नाम की कविता से लोगों में जोश भरा, वहीं विवेक रौशन ने “मेरे खुदा तुम मुझे सजा क्यों नहीं देते?” शीर्षक कविता से श्रोताओं को बांधे रखा.शिप्रा श्रीवास्तव ने अपनी रचना “कठिन है” के माध्यम से जिन्दगी की सच्चाई को रुबरु करवाया. इसके अलावा बिहार के कई कोने से आए युवा कवियों ने अपनी रचना प्रस्तुत की.

प्रभात कुमार द्वारा “इश्क का रंग हम हैं’, रौशन कुमार सिंह द्वारा “तेरी मेरी यादें’, अमित कुमार आजाद द्वारा “शायरी’, नितीश अभिषेक द्वारा “ज़िंदगी का इम्तिहान’, हामिद रजा द्वारा ” गुलशन हिन्द जैसा कोई गुलाब नहीं है”, कुमार मनीष द्वारा “नज़्म-ए-मोहब्बत’ अंकेश कुमार द्वारा “शायरी’, मीनाक्षी ने अपनी आवाज से समा को बांधे रखा, मनोरंजन द्वारा “ठग किसे कहूं’ जैसी खूबसूरत रचनाएं पढ़ीं.  इनके अलावा प्रिंस ने अपनी कॉमेडी के माध्यम से लोगों का मनोरंजन किया. रणबीर और आशु के द्वारा कार्यक्रम को सफल बनाने में अहम भूमिका निभाई गई. कार्यक्रम का आयोजन पटना यूनिवर्सिटी के छात्र मेराज, शिप्रा, प्रेम, रणबीर और आशु द्वारा आयोजित किया गया.

events

शिव सेना जाति निरपेक्षता व सदभाव को अलग रखकर लड़ती है चुनाव : सुमित रंजन

Published

on

REPORTER: VISHAL BHARDWAJ

पटना के गाँधी मैदान स्थित आई.एम.ए. हॉल अंतरराष्ट्रीय कार्यस्थ परिवार संध द्वारा के सम्मान समारोह कार्यक्रम का आयोजन किया गया ,इस कार्यक्रम में राज्य के भिन्न जगहों से कार्यकर्ताओं ने हिस्सा लिया. इस कार्यक्रम की शुरुआत पुलवामा में शहीद हुए CRPF में शहीद हुए जवानो को श्रद्धांजलि देकर शरू किया गया. अंतर्राष्ट्रीय कायस्थ परिवार के राष्ट्रीय अध्यक्ष ऋषिकेश सिन्हा कार्यक्रम के मुख्य आयोजकर्ता थे इसके अलावा महा सचिव अलोक सिन्हा ,रवि सिन्हा ,ललित श्रीवास्तव ,विनोद श्रीवास्तव ,दिनकर जी को पारिवारिक संस्था में सम्मानित किया गया.

इस कार्यक्रम के मुख्य अथिति के तौर पर शिव सेना बिहार राज्य महासचिव विनोद श्रीवास्तव ,डॉ पुनीत सिन्हा ,अमित श्रीवास्तव ,ब्रजेश सिन्हा,संजय सिन्हा ,सत्यम शास्त्री ,एवं वरिष्ठ अतिथि के रूप में शिव सेना पटना साहिब लोक सभा प्रत्याशी सुमित रंजन सिन्हा उपस्थित थे.

श्री सुमित ने मंच पर आगामी लोकसभा चुनाव को मध्य नजर रखते हुए कई बातें कही एवं उनमें मुख्यता यह कहा की हर बार चुनाव में सारी पार्टियां जाती कार्ड खेलती हैं. परन्तु शिव सेना ही एक ऐसी पार्टी है जो की कभी भी निरपेक्षता एवं सद्भाव को अलग रख कर चुनाव लड़ती है.

शिव सेना के पटना के लोकसभा प्रत्याशी सुमित रंजन सिन्हा ने मुख्यता: बिंदु पटना साहिब के संसदीय छेत्र का था जिसमे उन्होंने कहा की ऐतिहासिक पटना साहेब की भूमि में कोई भी पार्टी या नेता विकास की चर्चा नहीं लगती बात सिर्फ बड़े चेहरे की होती है. इस अंतरराष्ट्रीय कायस्थ परिवार सम्मेलन में बिहार के अलावा झारखण्ड, उत्तर प्रदेश ,बक्सर के भी लोग शामिल हुए.

Continue Reading

events

राज्यभर के CA ने की यूनियन बजट 2019 के लाभ-हानि पर चर्चा

Published

on

REPORTER: ABHISHEK KUMAR PANDEY 

हाल ही में केंद्र सरकार के द्वारा 2019 – 20 के बजट प्रावधानों की घोषणा की गयी. इसी के मद्देनजर दी इंस्टिट्यूट ऑफ़ चार्टर्ड एकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया के पटना शाखा ने अपने छात्रों के लिए यूनियन बजट पर आज एक सेमिनार का आयोजन किया. दी इंस्टिट्यूट ऑफ़ चार्टर्ड एकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया पटना शाखा के अध्यक्ष सीए मो.महताब आलम ने दिप प्रज्वलित कर इस आयोजन की शुरुआत की.

इस अवसर पर अध्यक्ष सीए मो. महताब आलम ने सम्बोधन में छात्रों को टैक्स के विषय में होने वाले हर परिवर्तन की सूक्ष्मता को समझने को महत्वपूर्ण बताया. आशा व्यक्त की विशेषज्ञों की उपस्थिति एवं उनके द्वारा साझा किये गए अनुभव सेमिनार में शामिल छात्रों को बहुत लाभान्वित करेंगे. इस सेमिनार में विशेषज्ञ CA आशीष कुमार अग्रवाल ने यूनियन बजट एवं फाइनेंस बिल 2019 पर विषयवार कई गंभीर बिंदुओं पर सभी का ध्यान बटाया.

कार्यक्रम के अंत में हाल ही में घोषित परीक्षा परिणामों में सफल छात्रों को एवं कॉमर्स विज़ार्ड 2018 के विजेता अक्षत काबरा (पुरे भारत में प्रथम स्थान प्राप्त) को सम्मानित किया गया.इस अवसर पर सचिव सीए प्रभु प्रसाद,सीए राजेश खेतान,सीए एम.के.मशी,सीए धीरेन्द्र कुमार जमुआर (अध्यक्ष,सिकासा-पटना),सुधांशु कुमार (सचिव,सिकासा-पटना) एवं वर्षा अग्रवाल (उपाध्यक्ष,सिकासा-पटना) भी उपस्थित थे.

 

Continue Reading

events

संग्रहालय सप्ताह : धरोहरों के संरक्षण,अधिकार और कर्तव्यों को आमलोगों ने करीब से जाना

Published

on

(दरभंगा से राघव नाथ झा की रिपोर्ट): सांस्कृतिक धरोहर को संरक्षण करने के लिए महाराजाधिराज लक्ष्मीश्वर सिंह संग्रहालय, दरभंगा द्वारा एक अनूठा प्रयोग प्रारम्भ किया गया है. दरभंगा के उपरोक्त संग्रहालय द्वारा आमलोगों में अपने धरोहर के प्रति जागरूकता उत्पन्न करने, समुचित संरक्षण एवं सुरक्षा के लिए 24 से 31 जनवरी तक राज्य में संग्रहालय सप्ताह का आयोजन किया गया. कला, संस्कृति एवं युवा विभाग की ओर से विविध प्रकार के आयोजन भी किए गए. संग्रहालय के अध्यक्ष डॉ. शिव कुमार मिश्र के अनुसार जब तक आम जनता तथा हमारे जनप्रतिनिधि, प्रशासनिक अधिकारीयों को अपने धरोहर संरक्षण के प्रति अधिकार एवं कर्तव्य की जानकारी नहीं होगी तबतक धरोहर का बचना मुश्किल है. आज समूचा देश धरोहर संरक्षण की समस्या से जूझ रहा है. कहीं प्राचीन टीले नष्ट किए जा रहे हैं तो कहीं मूर्तियां चोरी हो रही हैं.

उन्होंने बताया कि यद्यपि 1878 ई. में तत्कालीन सरकार द्वारा इंडियन ट्रेजर ट्रोव एक्ट बना कर जिलाधिकारी को अधिकार दिया गया कि कहीं भी कोई प्राचीन सामग्री, प्रतिमा, पुरावशेष अथवा पुरास्थल को अधिग्रहण कर सकता है. बिखरे हुए कलाकृतियों को नजदीकी राजकीय संग्रहालय में सुरक्षित रखवाने का कार्य कर सकता है. वहीं, बिहार पुलिस मैन्युअल 1978 के भाग 1 नियम 307 के अनुसार प्रावधान है कि थाना, मालखाने में पड़ी हुई या किसी केस में विवादित कलाकृति को राज संग्रहालय अथवा नजदीकी सरकारी संग्रहालय में रखा जाना चाहिए.परंतु ऐसा व्यावहारिक रूप में नहीं होता है.

MUST READ: जनता को मोदी सरकार का तोहफा, एकबार फिर सस्ता हुआ LPG सिलेंडर

वर्तमान समय में सरकारी योजनाओं अथवा अन्य निर्माण कार्य के दौरान खुदाई में अकसर प्राचीन मूर्तियां मिलती रहती हैं, लेकिन सरकारी नियमों का अनुपालन नहीं हो पाता है. आम लोग जागरूकता के अभाव में पूजा-पाठ, मंदिर निर्माण, भजन- कीर्तन आदि में मूर्ति स्थापित करने में लग जाते हैं. लोगों के दबाव के चलते प्रशासन भी अभिरुची नहीं दिखाती है. इस तरह आमलोगों में अपने धरोहर के संरक्षण के प्रति जागरूकता की कमी के कारण मूर्ति तस्करों की नजर मूर्तियों के ऊपर लगी रहती है.

MUST READ: तेजस्वी यादव ने फिर दोहराया- ‘अनंत सिंह और पप्पू यादव की नहीं हो सकती एंट्री’

संग्रहालय प्रशासन द्वारा अपने धरोहर के महत्व तथा उसके संरक्षण के विषय में आमलोगों में जागृति उत्पन्न करने के लिए दरभंगा जिला प्रशासन के सहयोग से कई गोष्ठियों का आयोजन किया गया. इस गोष्टी में जनप्रतिनिधि विशेष रूप से ग्राम पंचायत के मुखिया एवं सरपंच, थाना अध्यक्ष तथा अन्य प्रशासनिक अधिकारियों को आमंत्रित किया गया. यह बैठक अनुमंडल स्तर पर आयोजित की गयी. कार्यक्रम की अध्यक्षता क्रमशः बिरौल, बेनीपुर तथा दरभंगा सदर के अनुमंडलाधिकारी द्वारा की गयी.विशेषज्ञों द्वारा सरकारी नियमों के अलावे धार्मिक परंपरा, शास्त्रीय व्यवस्था, लोक मान्यता आदि सभी बिन्दुओं पर विस्तार से जानकारी दी गयी. प्रतिमाओं एवं अन्य पुरास्थलों की वर्तमान अवस्था को दिखाया गया तथा इसके दुर्दशा के निदान के लिए कानूनी एवं धार्मिक व्यवस्थाओं की जानकारी दी गयी. |

कार्यक्रम के दौरान पंचायत स्तर से लेकर जिला स्तर तक के अधिकारियों में सांस्कृतिक धरोहर के संरक्षण के लिए प्रशिक्षण दिया जा रहा है. प्रशिक्षण देने वालों में संग्रहालय के अध्यक्ष के अलावे बिहार के संग्रहालय एवं पुरातत्व के पूर्व निदेशक उमेशचंद्र दिवेदी, ललित नारायण मिथिला विश्वविध्यालय के इतिहास विभाग के प्रो. धर्मेन्द्र कुमर, प्राचीन भारतीय इतिहास विभाग के प्रो अयोध्यानाथ झा, मूर्ति विशेषज्ञ डॉ. सुशान्त कुमार तथा संग्रहालय से चन्द्र प्रकाश प्रमुख रूप से रहें.

बता दें कि संग्रहालय सप्ताह का 24 जनवरी को जिला पदाधिकारी डॉ. चंद्रशेखर सिंह द्वारा शुभारंभ किया गया था. उनके ही आदेश से सभी अनुमंडल मुख्यालयों में इसे आयोजित किया गया. सभा की अध्यक्षता पद्म श्री उषा किरण खान ने की थी जबकि प्रसिद्ध इतिहासकार प्रो. रत्नेश्वर मिश्र मुख्य वक्ता थे. इनके अलावे प्रो. विद्यानाथ झा, डॉ. सुशान्त कुमार कुमार, डॉ. भोगेन्द्र झा, डॉ. मंजर सुलेमान, मिथिला चित्रकारी के प्रसिद्ध कलाकार श्रीमती मनीषा झा, नेपाल के दिवेश कुमार सिंह आदि विद्वानों ने धरोहर संरक्षण विषय पर अपना आलेख प्रस्तुत किया.

वहीं समापन समारोह दरभंगा सदर के अनुमंडल अधिकारी की अध्यक्षता में जिला समाहरणालय स्थित अम्बेडकर भवन में मनायी गयी, जिसमे बड़ी संख्या में मुखिया के अलावे पुलिस एवं प्रशासन के अधिकारीगणों ने भाग लिया. इस दौरान मुख्य वक्ता के रूप में संग्रहालय बिहार के पूर्व निदेशक डॉ. उमेश चन्द्र दिवेदी ने सांस्कृतिक धरोहर के महत्त्व एवं उसके संरक्षण के समुचित उपाय पर विस्तार से प्रकाश डाला.विरासत के प्रति लोगों में जागरूकता एवं संरक्षण के प्रति लगाव पैदा करने के उद्देश्य से समस्तीपुर एवं मधुबनी जिला में भी इस प्रकार के कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा.

Continue Reading
Advertisement
Advertisement
Politics3 days ago

30 साल के हुए तेज प्रताप यादव, बधाई देनेवालों का लगा तांता

Politics3 days ago

राजीव प्रताप रूडी ने किया सारण से नॉमिनेशन, हलफनामे में दिया अपनी संपत्ति का ब्यौरा

Politics3 days ago

लोकसभा चुनाव : छठे चरण के लिए आज से शुरू होगा नामांकन, दूसरा चरण का आज थम जायेगा प्रचार का शोर

Politics4 days ago

राहुल गांधी के खिलाफ मानहानि का केस करेंगे सुशील मोदी

Politics4 days ago

लालू को मिला प्रशांत किशोर के मिलने वाले मामले में नाराज साले साधु यादव कसा साथ

Sports4 days ago

MISSION WORLD CUP 2019 : टीम इंडिया की घोषणा, पंत की अनदेखी

Politics4 days ago

देश को बचाने के लिए कांग्रेस के हाथ को मजबूत करें : शत्रुघ्न

Politics4 days ago

लोकसभा चुनाव: कांग्रेस में बागी हुए शकील अहमद, मधुबनी से कल निर्दलीय करेंगे नामांकन

Politics4 days ago

योगी-मायावती के बाद मेनका और आजम पर चला EC का चाबुक, चुनाव प्रचार पर लगी रोग

Politics4 days ago

नोटबंदी और GST के नाम पर BJP वोट मांगकर दिखाएं: आलोक मेहता

Politics4 days ago

LOKSHABHA ELECTION का दूसरा चरण: बिहार की 5 सीटों पर 69 उम्मीदवारों की किस्मत दांव पर

Politics5 days ago

BJP में शामिल हुए महाचंद्र सिंह का बड़ा आरोप, कहा- महागठबंधन में जात-पात का शिकार हुआ

Politics5 days ago

लालू परिवार को लगा एक ओर झटका, TEJPRATAP को मायावती ने दिया झटका, जानिए पूरी खबर

Politics5 days ago

अश्वनी चौबे पर TEJASHWI ने साधी चुप्पी, CM और KC त्यागी पर भड़के

Politics5 days ago

बोले सुशील मोदी, व्यापारियों-किसानों को पेंशन देगी MODI सरकार

Politics2 weeks ago

अनंत सिंह की चुनौतियों को नामांकन से पहले ललन सिंह कुछ इस तरह देने जा रहे जवाब

Videos2 weeks ago

VIDEO: बाहुबली विधायक अनंत सिंह के प्रतिद्वंद्वी को मुंगेर की जनता से ज्यादा उम्मीद

Politics2 weeks ago

बाहुबली विधायक के नीतीश पर लगाए आरोपों को लेकर तेजस्वी ने बड़ी साजिश की जताई आशंका

Politics2 weeks ago

नाराज ANANT SINGH ने प्रेस कांफ्रेंस कर LALAN SINGH और CM NITISH के खोले गंभीर राज

BIHARI Charcha2 weeks ago

समाज के संवेदनशील मुद्दों पर लोगों की जागरूकता में लोक कलाकारों की महत्वपूर्ण भूमिका: भरत सिंह भारती

Videos3 weeks ago

तेजप्रताप यादव से मिलने पहुंची अर्शी खान, कहा – “MY BEST FREIND”

Videos3 weeks ago

VIDEO: जानें, पप्पू यादव को तेजस्वी ने क्या दे डाली राजनीति को लेकर नसीहत

Bhojpuri3 weeks ago

VIDEO: भोजपुरी फिल्म ‘रब तुझमें दिखता है’ का भव्‍य मुहूर्त पटना में संपन्न

Sports2 months ago

VIDEO-INDvsAUS : विदर्भ में ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ भारत ने लगाया जीत का चौका

Politics2 months ago

VIDEO: अपने ही कार्यक्रम में नहीं दिखे तेजस्वी यादव , वजह बनी तबियत खराब

Videos2 months ago

नीतीश कुमार के जनहित कार्यों में सिपाही की तरह करूंगा काम: नरेंद्र सिंह

Politics2 months ago

VIDEO-लोकसभा चुनाव: तेजस्वी महागठबंधन के घटक दलों को साथ लेकर चलने में असमर्थ

Politics2 months ago

VIDEO: जात-पात नहीं विकास की बात पर राजनीति होनी चाहिए: गजपा

Videos2 months ago

अब जल्द ही बदल जाएगा लालू परिवार का एड्रेस

Videos2 months ago

राजभवन घेराव करने जा रहे किसानों का डाक बंगला चौराहे पर पुलिस कर्मियों से झड़प

Advertisement

Trending

Copyright © 2018 Biharimati Powered by Leadpanther.