Connect with us

Agriculture

बिहार में प्रधानमंत्री किसान सम्मान योजना शुरू, ऐसे करें ऑनलाइन आवेदन

Published

on

2482 Views

केंद्र प्रायोजित प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि (पीएम-किसान) योजना बिहार में शुरू हो गई है. दो हेक्टेयर से कम जोत के मालिक किसानों को सालाना छह हजार लेने के लिए ऑनलाइन आवेदन करना होगा. आवेदन के 11 दिनों के भीतर किसानों के खाते में पैसा जमा करने की अनुशंसा केंद्र के पोर्टल पर अपलोड कर दी जाएगी. इसके बाद केंद्र सरकार की ओर से किसानों के खाते में पैसा डाला जाएगा.

बता दें कि यह योजना केवल रैयती किसानों के लिए है. दो हेक्टेयर से कम जोत वाले निबंधित किसान सीधे ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं. निबंधित नहीं होने पर किसानों को पहले कृषि विभाग के पोर्टल पर निबंधन कराना होगा. प्रखंड कार्यालय में हर बुधवार व शनिवार को विशेष कैम्प लगाया जाएगा जहां सीओ व हल्का कर्मचारी मौजूद रहेंगे. ये संबंधित किसानों की कागजात की जांच करेंगे. प्रखंड कार्यालय को पांच दिनों के भीतर आवेदनों से संबंधित जमीन के दस्तावेजों की जांच करनी होगी. फिर अपर समाहर्ता दो दिनों में जांच पूरी करेंगे.

राज्य मुख्यालय को एक दिन यानी कुल 11 दिनों के भीतर केंद्र सरकार के पोर्टल पर आवेदन को अपलोड करना होगा. प्रधान सचिव ने कहा कि वंशावली के आधार पर जमीन के दस्तावेज का सत्यापन होगा. अगर पिता, दादा आदि के नाम पर जमीन है तो आवेदन करने वाले को संबंधित प्लॉट, खाता-खेसरा में अपनी भागीदारी बतानी होगी.

इस वेबसाइट पर जाकर करें आवेदन – https://dbtagriculture.bihar.gov.in

Agriculture

गाय के दूध से 4 गुना ज्यादा सुपर फूड है इस दूध में मौजूद

Published

on

दूध पीने के कितने फायदे हैं ये शायद बताने की जरूरत नहीं है. रोजाना दूध पीने से न सिर्फ आपकी हड्डियां मजबूत होती हैं, बल्कि यह शरीर की हर जरूरत को पूरा करता है. अबतक हमने गाय का, भैंस, बकरी का दूध सुना था, लेकिन क्या आपने कॉकरोच के दूध के बारे में सुना है? लेकिन क्या आप जानते हैं गाय के दूध से भी ज्यादा ताकतवर कॉकरोच का दूध पीनेवाले होते हैं.


फूड वर्ल्ड में आजकल अजीबोगरीब शोध सामने आ रहे हैं. आजकल कब कौन सा नया ट्रेंड शुरू हो जाए, कोई नहीं जानता. ऐसे ही अब नई चर्चा सुपरफूड कॉक्रोच मिल्क की है. हम बताते हैं कि आखिर ये सुपरफूड क्या है और इसके फायदे क्या हैं.

रेग्यूलर सेक्स से हर क्षेत्र में मिल सकती है आपको सक्सेस, जानिए कैसे

हाल ही हुए एक रिसर्च में यह पता चला है कि कॉक्रोच के शरीर में मिल्क के क्रिस्टल्स पाए जाते हैं. दरअसल ये क्रिस्टल्स बेबी कॉक्रोचों का खाना होता है, जिसमें काफी मात्रा में प्रोटीन उपलब्ध होता है. वहीं इंटरनेशनल यूनियन ऑफ क्रिस्टलोग्राफी के द्वारा पब्लिश एक रिपार्ट के अनुसार, ये मिल्क क्रिस्टल इंसानों के लिए भी काफी फायदेमंद हो सकते हैं.

बिहार के छोटे से गांव की आठवीं पास लड़की गत्ते से सजावटी सामान बनाकर बनी सफल उद्यमी

ये दूध पैसीफिक बीटल कॉकरोच से मिलता है. इस कॉकरोच के शरीर में एक ऐसा दूध बनता है जिसमें प्रोटीन क्रिस्टल्स होते हैं. जिसे ये जन्म से पहले ही अपने इंब्रॉएज को पिलाते हैं. इसमें प्रोटीन, फैट, शूगर की मात्रा होती है. अगर आप इसके प्रोटीन सीक्वेंस को देखें तो आप पाएंंगे कि इनमें सभी प्रकार के जरूरी अमीनों एसिड मौजूद होते हैं.

कई रोगों के लिए रामबाण है बासी रोटी, फेंके नहीं दवा के रूप में करें इस्तेमाल

भारतीय वैज्ञानिकों की खोज
आपको बता दें कि यह खोज बाहर देश के वैज्ञानिकों ने नहीं बल्कि हमारे भारतीय वैज्ञानिकों ने की है. हाल ही में भारतीय वैज्ञानिकों ने एक चौकाने वाली रिसर्च की है. इस अध्यन के अनुसार कॉकारोच का दूध, गाय के दूध से चार गुना फायदेमंद होता है.इस शोध की मानें तो कॉकरोच के दूध में पैसीफिक बीटल होता है. जिसका प्रयोग प्रोटीन सप्लीमेंट के रूप में किया जा सकता है.

इन पांच को खिलाएंगे खाना तो कभी नहीं आएगी कंगाली

कॉकरोच के दूध में होती है प्रोटीन क्रिस्टल नाम की धातु
वैज्ञानिकों के अनुसार, कॉकरोच का दूध एक बेहतरीन सुपरफूड है. ये इकलौती ऐसी प्रजाति है जिसके जन्में बच्चे हमेशा जवान रहते हैं. स्टडी पर फोकस करने वाले सनचारी बनर्जी ने कहा कि कॉकरोच के दूध में प्रोटीन क्रिस्टल नाम की एक धातु मिली होती है. जो एक प्रकार के खाने की तरह बनी है. इसमें प्रोटीन, फैट और चीनी मिलाई जाती है.

शादी कर रहें तो कुंडली छोड़िए ये 5 मेडिकल टेस्ट पहले कराये, नहीं पड़ेगा पछताना

रेड मीट से ज्यादा फायदेमेंद होता कॉकरोच का दूध
वैसे देखा जाए तो ये पहली बार नहीं कि वैज्ञानिक ने इस तरह का कोई खुलासा किया हो, इससे पहले भी पिछले साल आॅक्सफोर्ड यूनविर्सिटी ने भी कुछ इसी प्रकार के शोध का खुलासा करते हुए बताया था कि कॉकरोच का दूध, रेड मीट से ज्यादा फायदेमंद होता है.

 

 

THE newest product sparking a superfood craze is billed as one of the most nutritious substances on earth. But there’s a catch.but one bizarre “superfood” is back, two years after it first debuted Cockroach milk.

Continue Reading

Agriculture

बिहार के वैज्ञानिक ने तालाब के बजाय खेतों में मखाने पैदा करने की नई तकनीक

Published

on

तेजी से बढ़ती आबादी और घटती तालाबों की संख्या के बाद दरभंगा के कृषि वैज्ञानिकों ने एक ऐसी तकनीक खोजी है, जिसकी मदद से अब खेतों में भी बड़ी आसानी से मखाना की खेती की जा सकती हैं।

जहाँ पर खेतों में साल भर पानी भरा रहता हैं। ऐसे इलाको में मखाने की खेती करना किसानों के लिए आर्थिक रूप से फायदेमंद साबित हो सकते हैं। मखाने की खेती के लिए खेत में 6 से लेकर 9 इंच तक पानी जमा होना चाहिए।

बिहार के मधुबनी में एक ऐसा प्रयोग हुआ जिसमें तालाब के बगेर खुले खेत में मखाना की खेती पर बल दिया गया था। इस प्रयोग से खेत में मखाना की अच्छी पैदावार भी हुई थी। उसके बाद से ही बिहार के कई जगहों पर खेतों में मखाना उगाया जा रहा हैं।

मखाना केवल भारत देश में ही नहीं विदेशो में भी काफी लोकप्रिय हैं। लिहाजा देश के साथ ही अंतरराष्ट्रीय बाजार में भी इसकी बहुत ज्यादा मांग है। मखाना की खेती भारत के अलावा चीन, जापान, कोरिया और रूस में की जाती है। देश में बिहार के दरभंगा और मधुबनी में सबसे ज्यादा मखाना की खेती की जाती है।

पूरे भारत में 13 हजार हेक्टेयर में मखानों की खेती की जाती है। बिहार के अलावा पश्चिम बंगाल, असम,उड़ीसा, जम्मू कश्मीर, मणिपुर और मध्य प्रदेश में मखाना की खेती की जाती हैं। हालांकि अभी तक बिहार ही ऐसा एक मात्र राज्य है जहां मखाना की व्यवसायिक रुप से खेती की जाती है। केन्द्र और बिहार सरकार दोनों मिल कर राज्य में इसकी खेती को बढ़ावा देने के लिए हर तरीके से प्रयास कर रहे हैं।

मखाना की खेती की सबसे बड़ी विशेषता यह भी है कि इसमें खेती के वक्त लागत बहुत कम आती है। मखाना की खेती के लिए वह जगह सबसे अच्छी कही जाती हैं जहां तालाब या जल जमाव बड़ी आसानी से हो सके।

 

Continue Reading

Agriculture

शुगर मिलों की झोली तो बंपर चीनी उत्पादन से भरी, लेकिन किसानों के भुगतान में हिलाहवाली

Published

on

किसानों और गन्ना विभाग की मेहनत से गन्ने ने शुगर मिलों की झोली तो बंपर चीनी उत्पादन से भर दी है, लेकिन मिलें किसानों को अब भी भुगतान में हिलाहवाली कर रही हैं। शुगर मिलें कम लागत में चीनी का अधिक उत्पादन होने के बाद भी गन्ना किसानों को सरकार के दावे के मुताबिक भुगतान नहीं कर रही है।

एक जनवरी तक मिलों ने किसानों का 40 फीसदी पैसा दबाया हुआ है। जबकि सरकार 14 दिन के अंदर शत-प्रतिषत भुगतान के आदेश जारी कर चुकी है।

पिछले साल मंडल में अगेती और सामान्य गन्ना प्रजाति का आदर्श बुवाई मानक 60-40 बिगड़ने से गन्ने में चीनी का परता कम हो गया था। जिससे शुगर मिल औसत न आने की बात कहकर किसानों का पैसा दबाए रखते थे, लेकिन इस बार गन्ना किसान और गन्ना विभाग की मेहनत के बूते मंडल में चीनी से भरपूर बढोतरी हुई है।

इसका परिणाम इस साल देखने को भी मिल रहा है। अब तक मंडल के चीनी मिलों की औसत चीनी रिकवरी 9.48 चल रही है। चीनी का होलसेल रेट भी 3700 से 3900 रुपए प्रति कुंतल चल रहा है। इससे मिलों के वारे के न्यारे हो रहे हैं।

इस सीजन में चीनी की रिकवरी भी ज्यादा आ रही है, और रेट भी महंगा है। लेकिन मिलों को किसानों का पैसा दबाने की आदत हो गई है। संगठित नहीं होने से किसान परेशान है

Continue Reading
Advertisement
Advertisement
Politics3 days ago

30 साल के हुए तेज प्रताप यादव, बधाई देनेवालों का लगा तांता

Politics3 days ago

राजीव प्रताप रूडी ने किया सारण से नॉमिनेशन, हलफनामे में दिया अपनी संपत्ति का ब्यौरा

Politics3 days ago

लोकसभा चुनाव : छठे चरण के लिए आज से शुरू होगा नामांकन, दूसरा चरण का आज थम जायेगा प्रचार का शोर

Politics4 days ago

राहुल गांधी के खिलाफ मानहानि का केस करेंगे सुशील मोदी

Politics4 days ago

लालू को मिला प्रशांत किशोर के मिलने वाले मामले में नाराज साले साधु यादव कसा साथ

Sports4 days ago

MISSION WORLD CUP 2019 : टीम इंडिया की घोषणा, पंत की अनदेखी

Politics4 days ago

देश को बचाने के लिए कांग्रेस के हाथ को मजबूत करें : शत्रुघ्न

Politics4 days ago

लोकसभा चुनाव: कांग्रेस में बागी हुए शकील अहमद, मधुबनी से कल निर्दलीय करेंगे नामांकन

Politics4 days ago

योगी-मायावती के बाद मेनका और आजम पर चला EC का चाबुक, चुनाव प्रचार पर लगी रोग

Politics4 days ago

नोटबंदी और GST के नाम पर BJP वोट मांगकर दिखाएं: आलोक मेहता

Politics4 days ago

LOKSHABHA ELECTION का दूसरा चरण: बिहार की 5 सीटों पर 69 उम्मीदवारों की किस्मत दांव पर

Politics5 days ago

BJP में शामिल हुए महाचंद्र सिंह का बड़ा आरोप, कहा- महागठबंधन में जात-पात का शिकार हुआ

Politics5 days ago

लालू परिवार को लगा एक ओर झटका, TEJPRATAP को मायावती ने दिया झटका, जानिए पूरी खबर

Politics5 days ago

अश्वनी चौबे पर TEJASHWI ने साधी चुप्पी, CM और KC त्यागी पर भड़के

Politics5 days ago

बोले सुशील मोदी, व्यापारियों-किसानों को पेंशन देगी MODI सरकार

Politics2 weeks ago

अनंत सिंह की चुनौतियों को नामांकन से पहले ललन सिंह कुछ इस तरह देने जा रहे जवाब

Videos2 weeks ago

VIDEO: बाहुबली विधायक अनंत सिंह के प्रतिद्वंद्वी को मुंगेर की जनता से ज्यादा उम्मीद

Politics2 weeks ago

बाहुबली विधायक के नीतीश पर लगाए आरोपों को लेकर तेजस्वी ने बड़ी साजिश की जताई आशंका

Politics2 weeks ago

नाराज ANANT SINGH ने प्रेस कांफ्रेंस कर LALAN SINGH और CM NITISH के खोले गंभीर राज

BIHARI Charcha2 weeks ago

समाज के संवेदनशील मुद्दों पर लोगों की जागरूकता में लोक कलाकारों की महत्वपूर्ण भूमिका: भरत सिंह भारती

Videos3 weeks ago

तेजप्रताप यादव से मिलने पहुंची अर्शी खान, कहा – “MY BEST FREIND”

Videos3 weeks ago

VIDEO: जानें, पप्पू यादव को तेजस्वी ने क्या दे डाली राजनीति को लेकर नसीहत

Bhojpuri3 weeks ago

VIDEO: भोजपुरी फिल्म ‘रब तुझमें दिखता है’ का भव्‍य मुहूर्त पटना में संपन्न

Sports2 months ago

VIDEO-INDvsAUS : विदर्भ में ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ भारत ने लगाया जीत का चौका

Politics2 months ago

VIDEO: अपने ही कार्यक्रम में नहीं दिखे तेजस्वी यादव , वजह बनी तबियत खराब

Videos2 months ago

नीतीश कुमार के जनहित कार्यों में सिपाही की तरह करूंगा काम: नरेंद्र सिंह

Politics2 months ago

VIDEO-लोकसभा चुनाव: तेजस्वी महागठबंधन के घटक दलों को साथ लेकर चलने में असमर्थ

Politics2 months ago

VIDEO: जात-पात नहीं विकास की बात पर राजनीति होनी चाहिए: गजपा

Videos2 months ago

अब जल्द ही बदल जाएगा लालू परिवार का एड्रेस

Videos2 months ago

राजभवन घेराव करने जा रहे किसानों का डाक बंगला चौराहे पर पुलिस कर्मियों से झड़प

Advertisement

Trending

Copyright © 2018 Biharimati Powered by Leadpanther.