तेजस्वी अपनी बेनामी संपत्ति गरीबों के हवाले कर दें: मंगल पांडेय

0
46

गरीब महासम्मेलन में शामिल महागठबंधन के नेताओं के बयानों पर स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने पलटवार किया है. उन्होंने कहा कि कल तक प्रधानमंत्री का गुणगान करने वाले पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी का अचानक लालू प्रेम उनकी अवसरवादिता को दर्शाता है. कल तक भ्रष्टाचार और वंशवाद पर प्रहार करने वाले पूर्व मुख्यमंत्री भ्रष्टाचारियों की गोद में बैठ बेटे को विधान पार्षद बनाने का सपना देख रहे हैं.

पांडेय ने महासम्मेलन में राजद नेता तेजस्वी यादव द्वारा जनता को दिग्भ्रमित करने का आरोप लगाते हुए कहा कि केंद्र सरकार बदले की भावना से नहीं बल्कि कानून के अनुसार अपना काम कर रही है. मंगल पांडेय ने कहा कि तेजस्वी जहां भी जाते हैं, वह जनता को अपने परिवार की व्यथा सुनाते हैं, लेकिन यह क्यों नहीं बताते हैं कि इतनी कम उम्र में वे अकूत संपत्ति के मालिक कैसे बन गए. यह उनकी पुश्तैनी संपत्ति या उनकी कमाई से अर्जित की गई है या फिर घपले-घोटाले की है. यही नहीं, जनता को यह भी बताना चाहिए कि उनका पूरा परिवार और कितनी बेनामी संपत्ति की मालिक हैं.

पांडेय ने कहा कि अच्छा रहता गरीब सम्मेलन में तेजस्वी अपनी बेनामी संपत्ति गरीबों को दान दे देने की घोषणा कर देते. गरीब महासम्मेलन को गरीबों का मजाक बताते हुए कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री एक ओर गरीब महासम्मेलन कर अपने को गरीबों और दलितों का हमदर्द बताते हैं, वहीं दूसरी ओर अरबों की बेनामी संपत्ति के स्वामी से गरीबी की दुहाई दिलवा रहे हैं.

 

 

 

Health Minister Mangal Pandey has reversed the statements of the leaders of the coalition partners in the poor Mahasammelan. He said that Lalu Prasad’s sudden outburst of former Chief Minister Jitan Ram Manjhi, who praised the Prime Minister till yesterday, shows his opportunism. Till yesterday, the former Chief Minister, who attacked the corruption and dynasty, is dreaming to make the son a legislative councilor sitting in the lap of the corrupt.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here