क्रिस्टोफर के इस ट्वीट से बिहार की राजनीति में मची है खलबली

0
27

बिहार की राजनीति में डेटा लीक मामले में कैंम्ब्रिज एनालिटिका के पूर्व सहयोगी क्रिस्टोफर वाइली के एक खुलासे ने फिर से हड़कंप मचा दिया है. क्रिस्टोफर ने ट्वीट कर दावा किया है कि इंडिया में बीजेपी-कांग्रेस के साथ-साथ जेडीयू के लिए भी काम किया है. क्रिस्टोफर ने लिखा है कि बिहार में 2010 के विधानसभा चुनाव के दौरान जनता दल यूनाइटेड को चुनावी डाटा उपलब्ध करवाया था. वाइली ने कहा है कि 2010 में जेडीयू की ओर से एससीएल इंडिया को वोटरों की मिजाज समझने की जिम्मेदारी दी थी.

वहीं, इस खुलासे के बाद बिहार की राजनीति में खलबली मच गई है. आरजेडी विधायक भाई विरेंद्र ने कहा है कि मैं पहले से ही इसे लेकर कहता रहा हूं कि जेडीयू ने ईवीएम में छेड़छाड़ कर चुनाव जीती है. इसके लिए नीतीश कुमार कुछ खास लोगों को भी लाए थे. आरजेडी के आरोपों पर जेडीयू कोटे से मंत्री जय कुमार सिंह ने कहा कि आरजेडी बेवजह आरोप लगाते रहती है. इन चीजों में कोई दम नहीं है. वहीं, मंत्री श्याम रजक ने कहा कि जेडीयू को चुनाव जनता जिताती है. इन आरोपों में कोई दम नहीं है. हमारी पार्टी किसी की कोई मदद नहीं लेती है.

गौरतलब है कि इससे पहले जेडीयू महासचिव केसी त्यागी के बेटे अमरीश त्यागी ने भी स्वीकार किया था कि उन्होंने जेडीयू के लिए 2010 में काम किया है. हालांकि त्यागी इस बात से इनकार कर दिया था कि उनका कैंब्रिज एनालिटिका के साथ कोई व्यवसायिक लेनदेन नहीं है.

 

 

 

Christopher tweeted that India has worked for JDU alongside BJP-Congress as well. Christopher has written that during the 2010 assembly elections in Bihar, Janta Dal United had provided election data.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here