अर्जित शाश्वत मामले में कोर्ट ने मांगी केस डायरी,NDA गठबंधन में पड़ रही दरार

0
111

केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे के बेटे भाजपा नेता अर्जित शाश्वत को अग्रिम जमानत के लिए अभी इंतजार करना होगा. भागलपुर कोर्ट में दायर की गई अग्रिम जमानत याचिका में पुलिस से केस डायरी की मांग की है. अर्जित के इस मामले को लेकर बिहार की NDA गठबंधन में अब दरार की संभावना भी दिखने लगी है.
बता दें कि इस अर्जित शाश्वत के मामले में आज मंगलवार 27 मार्च को भागलपुर कोर्ट में सुनवाई होनी थी. इसी कड़ी एडीजे चतुर्थ कुमोद रंजन सिंह ने नाथनगर पुलिस से मामले में केस डायरी की मांग की है. पुलिस को तीन दिनों के भीतर केस डायरी अदालत के सामने प्रस्तुत करने का आदेश दिया गया है.
वहीं जदयू के प्रधान महासचिव केसी त्यागी ने साफ-साफ कह डाला है कि अगर कानून व्यवस्था किसी के वजह से प्रभावित होती है तो उसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. उन्होंने कहा कि कानून व्यवस्था बिगड़ेगी तो गठबंधन भी प्रभावित हो सकता है. उन्होंने आगे कहा कि सीएम नीतीश कुमार पहले भी रामनवमी पर चिन्ता जता चुके हैं. बिहार सरकार कानून व्यवस्था के नाम पर कोई समझौता नहीं कर सकती है. त्यागी ने यह भी कहा है कि भाजपा नेताओं को अपने बयानों पर लगाम लगाना चाहिए.
दरअसल, बिहार सरकार के लिए सिरदर्द बने इस मामले के पीछे कारण यह है कि बीते 17 मार्च को भागलपुर के नाथनगर में निकाले गए जुलूस के दौरान जमकर बवाल हुआ था. उग्र नारे लगाए गए थे. जिसके बाद से तनाव पैदा हो गया था. पुलिस वालों के साथ-साथ पब्लिक को भी चोटें आई थीं. घटना के बाद भागलपुर कोर्ट ने अर्जित शाश्वत समेत 9 लोगों के खिलाफ गिरफ्तारी का वारंट जारी कर दिया था.

 

 

The BJP leader Arjit sasawat, son of union minister Ashwini Choubey will have to wait for advance bail. In the advance bail petition filed in Bhagalpur court, the police has sought a case diary. Bihar NDA alliance has now started to see the possibility of a crackdown on this issue.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here