अश्विनी चौबे के बेटे अर्जित की अग्रिम जमानत पर सुनवाई आज, उससे पहले Facebook पर जय श्री राम लिख डाला Video

0
63

बिहार के भागलपुर में हिंदू नववर्ष को लेकर निकाली गई शोभा यात्रा के दौरान हुए उपद्रव के आरोपित केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी चौबे के बेटे व भाजपा नेता अर्जित शाश्‍वत ने भागलपुर जिला जज की अदालत में अग्रिम जमानत याचिका दाखिल की है. आज यानी मंगलवार को सुनवाई होनी है.

विदित हो कि कोर्ट ने अर्जित तथा आठ अन्‍य के खिलाफ गिरफ्तारी का वारंट निर्गत किया है. सुनवाई से पहले अर्जित ने अपने फेसबुक अकाउंट पर एक वीडियो शेयर किया है. यह वीडियो उपद्रव वाले दिन यानी वो 17 मार्च का है. इसी दिन भागलपुर में हुए हंगामे में पुलिस और पब्लिक जख्मी हुए थे.
अर्जित शाश्वत चौबे के फेसबुक से लिया गया वीडियो-

#जयश्रीराम भाईयों..17 मार्च को भारतीय नव वर्ष की पूर्व संध्या पर जब शोभा यात्रा निकालने की परमीशन ही नहीं थी.. तो भागलपुर की पुलिस शोभा यात्रा को स्काट क्यों कर रही थी ? पुलिस ने स्काट करने के बजाय शोभा यात्रा को रोका क्यों नहीं? साफ समझ आ रहा है.. अपनी नाकामी छुपाने के लिए पुलिस निर्दोष लोगों को फंसा रही है। विडियो में आप खुद ही देख लीजिए।

Posted by Arjit Shashwat Choubey on Monday, March 26, 2018

अर्जित ने अपने फेसबुक पर इस वीडियो के साथ लिखा है–

जय श्रीराम भाईयों..17 मार्च को भारतीय नववर्ष की पूर्व संध्या पर जब शोभा यात्रा निकालने का परमीशन ही नहीं था.. तो भागलपुर की पुलिस शोभा यात्रा को स्काट क्यों कर रही थी? पुलिस ने स्काट करने के बजाय शोभा यात्रा को रोका क्यों नहीं? साफ समझ आ रहा है.. अपनी नाकामी छुपाने के लिए पुलिस निर्दोष लोगों को फंसा रही है. वीडियो में आप खुद ही देख लीजिए.

इस वीडियो के माध्यम से यह जाहिर होता है कि अर्जित लोगों को यह बताना चाह रहे हैं कि उनकी कोई गलती नहीं है. उन्होंने भागलपुर में कथित दंगा भड़काने जैसा कोई काम नहीं किया है. आपको बता दें कि भागलपुर में 17 मार्च को बवाल मचाने के आरोप में वारंटी अर्जित शाश्वत को पुलिस खोज रही है. दरअसल भागलपुर कोर्ट से उनके खिलाफ गिरफ्तारी का वारंट जारी है. इस बीच अर्जित ने कोर्ट में अग्रिम जमानत की याचिका भी डाल दी है.

अर्जित की याचिका पर आज मंगलवार को कोर्ट में सुनवाई होनी है. इसी बीच सुनवाई से पहले अर्जित ने अपने फेसबुक पर यह वीडियो पोस्ट किया है. अब इस मामले में आज भागलपुर कोर्ट में सुनवाई होनी है. देखने वाली बात यह होगी कि क्या अर्जित शाश्वत को अग्रिम जमानत मिल पाती है.

 

 

 

The son of Union Health Minister Ashwani Choubey, who was accused of fomenting during the Shobha Yatra in Bihar’s Bhagalpur in Bihar, has received an anticipatory bail petition in the Bhagalpur District Judge’s court. Today is the hearing on Tuesday.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here