चारा घोटाला: बिहार के मुख्य सचिव अंजनि कुमार समेत सात को हाईकोर्ट से बड़ी राहत

0
33

बिहार के मुख्य सचिव अंजनी कुमार सिंह को बड़ी राहत झारखंड हाईकोर्ट ने दी है. हाईकोर्ट ने सीबीआई कोर्ट के उस नोटिस पर रोक लगा दी है, जिसमें अंजनी कुमार सहित सात लोगों को आरोपी बनाने का आदेश दिया गया था.

हाईकोर्ट ने इस मामले में अंजनी कुमार सिंह के अलावा पूर्व मुख्य सचिव वीएस दुबे, सीबीआई के एएसपी एके झा, गवाह दीपक चांडक, पूर्व डीजी डीपी ओझा, पीएसी के तत्कालीन सचिव फूल झा को भी राहत दी है.

बता दें कि दुमका कोषागार से अवैध निकासी के इस मामले में सीबीआई कोर्ट के आदेश को झारखंड हाईकोर्ट में चुनौती दी गई थी. सीबीआई ने इस संबंध में गुरुवार को याचिका दायर की थी. सीबीआई के एएसपी एके झा ने भी व्यक्तिगत तौर पर खुद को आरोपी बनाए जाने के खिलाफ अपील किया था.

मालूम हो कि दुमका कोषागार से अवैध निकासी से संबंधित चारा घोटाला मामले में बिहार के मुख्य सचिव व दुमका के तत्कालीन उपायुक्त अंजनी कुमार सिंह सहित सात लोगों को अदालत ने चारा घोटाला में सीबीआइ ने आरोपी बनाया था और सशरीर कोर्ट में उपस्थित होने के लिए सम्मन भेजा था. लेकिन झारखंड हाई कोर्ट ने आज उन्हें बड़ी राहत देते हुए कोर्ट की नोटिस पर तत्काल रोक लगा दी है.

6 मार्च को सीबीआई कोर्ट ने कांड संख्या आरसी 38 ए/96 में सात लोगों को आरोपी बनाते हुए नोटिस किया था. आरोपी बनाए गए छह लोग सीबीआई के गवाह थे.

 

 

 

 

Jharkhand High Court has given big relief to Bihar Chief Secretary Anjani Kumar Singh. The High Court has stayed the CBI’s court notice that seven people including Anjani Kumar were ordered to make the accused.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here