अब चार दिन नहीं पांच दिन बिहार में बंद रहेंगे बैंक, 2 अप्रैल को भी अवकाश घोषित

0
239

सूबे के बैंक अब अपनी वार्षिक क्लोजिंग के लिए 2 अप्रैल को भी बंद रहेंगे. बिहार सरकार ने शुक्रवार 23 मार्च को इसकी अधिसूचना जारी कर दी. बैंक अब 1 अप्रैल को घोषित अवकाश के साथ ही 2 अप्रैल को वार्षिक क्लोजिंग के लिए बंद रहेंगे. इसके साथ ही बैंकों में छुट्टी की संख्या अब चार से बढ़कर पांच हो गई है. बता दें कि 29 मार्च को महावीर जयंती और 30 मार्च को गुड फ्राइडे होने पर बैंकों में अवकाश रहेगा.

http://gad.bih.nic.in/Circulars/CN-01-23-03-2018.pdf

वहीं 31 मार्च को फाइनेंशियल इयर क्लोजिंग और पांचवां शनिवार होने के चलते बैंक खुला रहेंगे. वहीं 1 अप्रैल को नए वित्तीय वर्ष की शुरुआत के दिन बैंक में अवकाश रहता है और उस दिन रविवार भी है. सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा जारी अधिसूचना के अनुसार बैंकों में एक दिन की बंदी और बढ़ गई है.
यहां यह भी जान लें कि 24 मार्च को चौथा शनिवार है और इसके बाद 25 मार्च को रामनवमी के साथ-साथ रविवार भी है, तो इन दोनों दिन बैंक बंद रहेंगे. ऐसे में आने वाले 8 दिनों में 4 दिन बैंक बंद रहेंगे और 4 दिन बैंक खुलेंगे. लिहाजा अगर आपको बैंक का कोई काम है तो इन अवकाश वाले दिनों के आधार पर अपने काम निपटा लें.

मालूम हो कि बिहार सरकार ने इस निर्णय के लिए सामान्य प्रशासन विभाग की अधिसूचना को संशोधित किया है. यह अधिसूचना बैंकों की वार्षिक लेखाबंदी के लिए नेगोशिएबल इंस्ट्रूमेंट एक्ट – 1881 के आधार पर जारी की गई थी. इसमें संशोधन के लिए RBI ने बिहार सरकार से अनुरोध किया था. ऐसे में लगातार पड़ने वाली बैंक बंदी से उपभोक्ताओं के साथ कर्मचारियों का भी तनाव बढ़ जाता है. वहीं उपभोक्ताओं को बैंक संबंधी कार्यों को पूरा करने में काफी परेशानी आ सकती है.

 

 

The banks of the province will now be closed on April 2 for their annual closing. The Bihar government issued its notification on Friday 23rd March. The bank will now be closed for annual closing on April 2 along with the declared holiday on April 1. With this, the number of vacation in banks has now increased from four to five. Let us know that on 29th March, Mahavir Jayanti and Holidays on March 30 will be held in the banks.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here