बिहार की बदहाली में हर साल आने वाली बाढ़ ही सबसे बड़ी जड़: सुशील मोदी

0
34

राज्य की बदहाली के लिए हर साल आने वाले बाढ़ ही उसकी सबसे बड़ी जड़ है. बाढ़ की वजह से क्षतिग्रस्त पुल-पुलिया और सड़क का भी निर्माण कराना पड़ता है. क्लाइमेट चेंज की वजह से ही अररिया में अगस्त माह में एक महीने में होने वाली बारिश तीन दिन में ही हो गयी जिसका नतीजा भवावह बाढ़ के रूप में सबने देखा. यह कहना है बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी का. विश्व जल दिवस के मौके पर जलसंधाधन विभाग द्वारा गंगा समेत नदियों में गाद की समस्या पर सेमिनार का आयोजन किया गया.

इस मौके पर कोसी और गंगा पर रिसर्च करने वाले एजेन्सियों के अलावे विभाग के प्रधान सचिव, एक्शन आन क्लाइमेट टूडे की रिजनल डायरेक्टर क्रिस्टिना डेल रियों ने भी अपने विचार रखे. सुशील मोदी ने कहा कि 2017 के बाढ में पांच हजार करोड़ रूपये राज्य सरकार ने खर्च किये. उन्होंने कहा कि जलवायु में बदलाव की वजह से बीमार करने वाले बैक्टिरिया की आयु में भी बढ़ोत्तरी हो गयी हैै. सुशील मोदी ने यह भी कहा कि बिहार की नदियों में नेपाल से आने वाली नदियों की वजह से गाद जमा हो रहा है जिससे अविरल प्रवाह से दूर किया जा सकता है.

उन्होंने कहा कि जलवायु में बदलाव और मीठे और पीने के पानी के दुरूपयोग की वजह से आने वाले दिनों में लोगों को काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ेगा. जल संसाधन मंत्री ललन सिंह ने कहा कि गंगा नदी में अब गंगा का नहीं बल्कि उसकी सहायक कोसी, सोन, गंडक, बूढी गंडक और कमला बागान जैसी नदियों का जल है.

उन्होंने कहा कि बक्सर से पटना के गांधी घाट तक यानि लगभग 200 किलोमीटर गंगा का पानी पहुंचने में तीन घंटे का समय लगता है तो भागलपुर से फरक्का बराज तक यानि 170 किलोमीटर तक पानी जाने में तीन दिन का समय लगता है. उन्होने यह भी कहा कि बिहार में बाढ़ की समस्या सिर्फ बिहार की वजह से नहीं बल्कि नेपाल,झारखंड,मध्यप्रदेश,उत्तर प्रदेश उत्तराखंड में अत्याधिक वर्षा की वजह भी बिहार में समस्या उत्पन्न होती है.

 

 

 

The flood that is coming every year for the state's downfall is its biggest root. Due to floods, damaged bridges and roads have to be constructed too. Due to the Climate Change, the rain in the month of Araria was due in one month only in three days, due to climate change, which resulted in Bhawavah as a flood. This is to say the Deputy Chief Minister of Bihar Sushil Kumar Modi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here