पीएम मोदी और लालू के नाम पर खूनी बवाल, घर में घुसकर BJP कार्यकर्ता के पिता की हत्या

0
32

दरभंगा में बिहार उपचुनाव के परिणाम का दुष्परिणाम अब देखने को मिल रहा है. दो साल पहले पीएम मोदी के नाम पर रखे गए चौक का नाम हटाकर लालू चौक रखने को लेकर भारतीय जनता पार्टी कार्यकर्ता और राष्ट्रीय जनता दल के कार्यकर्ताओ के बीच विवाद इतना बढ़ा की गुरुवार रात 24 के करीब हमलावरों ने बीजेपी कार्यकर्ता के घर पर हमला कर दिया. इस हमले में बीजेपी कार्यकर्ता के पिता की मौत हो गई.

सदर थाना क्षेत्र के भादवा चौक स्थित गुरुवार देर रात दो दर्जन से अधिक अज्ञात लोगों ने भाजपा कार्यकर्ता के भादवा चौक स्थित घर पर हमला कर दिया. इस हमले में भाजपा कार्यकर्ता कमलेश यादव के पिता रामचंद्र यादव को हमलावरों ने धारदार हथियार से हत्या कर दी. वहीं खुद कमलेश यादव बुरी तरह जख्मी हैं जिनका इलाज दरभंगा के अस्पताल डीएमसीएच में चल रहा है. पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए डीएमसीएच में भेज दिया है.
बताया जाता है कि चौक के नाम पर दो साल से विवाद चल रहा है. कमलेश यादव ने दो साल पहले ही चौक का नाम नरेंद्र मोदी चौक रख दिया था. कई लोग इसका विरोध कर रहे थे लेकिन विरोध के वावजूद भी कमलेश नाम बदलने को तैयार नहीं था. हाल में हुए उपचुनाव के बाद कुछ युवक गुरुवार शाम आये और भाजपा कार्यकर्ता कमलेश से इस चौक का नाम लालू चौक रखने को लेकर विवाद हो गया. स्थानीय लोगों ने बीचबचाव कर मामले को शांत कर दिया लेकिन बीती देर रात दो दर्जन मोटरसाइकिल सवार युवकों ने बीजेपी कार्यकर्ता के घर पर हमला कर दिया.  बीजेपी कार्यकर्ता कमलेश यादव के अनुसार दो साल से चौक के नाम को लेकर विवाद चल रहा था लेकिन गुरुवार शाम कुछ युवक आये और चौक का नाम लालू चौक रखने को कहा लेकिन हमने मना कर दिया. जिसके बाद गुुरुवार की देर रात बीस व पच्चीस बाइकों पर सवार लोग हथियारों के साथ नरेंद्र मोदी चौक पर पहुंचे.

ये लोग नरेंद्र मोदी मुर्दाबाद व उनके नाम से गाली देने लगे. भाजपा नेता तेज नारायण यादव ने इसका विरोध किया. मामले को गंभीर होते देख भाजपा नेता के पिता रामचंद्र यादव ने तेज नारायण को वहां से हटा दिया व विरोध करने वाले लोगों को समझाने लगे कि वह प्रधानमंत्री हैं. तुम लोग गाली क्यों दे रहे हो. इस पर हमलवारों ने तलवार से उनके सिर पर प्रहार कर दिया. दूसरा वार उनके हाथों पर किया गया. हमलावरों ने इसके बाद तलवार से गर्दन पर हमला किया. जिससे सिर व धड़ अलग हो गए. बीच बचाव को आए भाजपा नेता के भाई कमल यादव पर भी तलवार से हमला कर दिया गया. वे गंभीर रूप से जख्मी हो गए. हमलावरों की संख्या ज्यादा देख घर के अन्य लोग भाग निकले. इस हमले में कमलेश यादव के पिता की मौत हो गई. वही भाजपा कार्यकर्ता को गंभीर स्थिति में अस्पताल में भर्ती कराया गया है.रात में दो दर्जन मोटरसाइकिल सवार युवक आये घर पर और मेरे पूरे परिवार पर हमला कर दिया. इस हमले में मेरे पिता की मौत हो गई जबकि मैं घायल हो गया हूं.

जैसे ही ये खबर दरभंगा में फैली बीजेपी कार्यकर्ता आक्रोशित होकर दरभंगा से लहेरियासराय जाने वाले मुख्य सड़क को कर्पूरी चौक को जाम कर नारेबाजी करने लगे. बीजेपी कार्यकर्ताओं ने हमलावरों को जल्द गिरफ्तार करने की मांग की है. वही मौके पर पहुंचे सदर एसडीओ गजेंद्र सिंह के साथ एएसपी दिलनवाज अहमद भाजपा कार्यकर्ता को जल्द हमलावरों की गिरफ्तारी का आश्वासन देकर जाम हटाने की कोशिश कर रहे हैं.
वहीं एसएसपी दरभंगा सत्यवीर सिंह ने बताया कि मामले की तहकीकात पुलिस कर रही है. चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है. शेष लोगों की गिरफ्तारी के लिए छापामारी की जा रही है.जिलाधिकारी ने भी ​कहा कि मामले में जिला प्रशासन गंभीरता से कार्रवाई कर रहा है. किसी को भी कानून व्यवस्था से खिलवाड़ नहीं करने दिया जाएगा.

 

 

Ram Chandra Yadav (70), father of the Bhadha village resident of Bahadha Panchayat and Bahla Panchayat Chairman, Tej Narayan Yadav, was killed on Sunday night by bike raiders and killed by the sword, and BJP leader Kamal Yadav (20) attacked with sword and seriously injured.
In protest against this incident, the BJP has blocked roads near the city's Karpuri Chowk on Friday.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here