राज्‍यसभा चुनाव : जया बच्‍चन से चार गुना अमीर हैं जदयू के प्रत्‍याशी किंग महेंद्र

0
215

जनवरी महीने में दिल्ली की राजनीति में उस वक्त भूचाल आ गया. जब अरविंद केजरीवाल ने राज्यसभा की प्रत्याशियों की घोषणा की. तीन नामों में सिर्फ संजय सिंह छोड़ बाकी नये चेहरे थे. नये प्रत्याशी एनडी गुप्ता के पास 164 करोड़ जबकि सुशील गुप्ता के पास 9 करोड़ की करोड़ की संपत्ति थी. पिछले दो दशक से राज्यसभा में पैसे और रसूख वाले लोग पहुंच रहे हैं. 58 सीटों के लिए होने वाले राज्यसभा के द्विवार्षिक चुनाव में भी कुछ वैसा ही मिलता-जुलता ट्रेंड दिखाई पड़ रहा है.
कला, साहित्य खेल, पत्रकारिता, कानून, सामाजिक कार्य और कारोबार हर क्षेत्र के लोगों की मौजूदगी सुनिश्चित करने के लिए बनी व्यवस्था में वैसे नये चेहरे आ रहे जो पार्टी में अपेक्षाकृत कम चर्चा में रहे हैं. 58 सीटों के लिए होने वाले राज्यसभा चुनावों में प्रत्याशियों ने नामांकन भर दिये हैं. राज्यसभा चुनाव के मौजूदा प्रत्याशियों की संपत्ति पर एक नजर :

महेंद्र प्रसाद ( किंग महेंद्र)
किंग महेंद्र के नाम से मशहूर महेंद्र प्रसाद जदयू के राज्यसभा प्रत्याशी हैं. इनके पास 4010 करोड़ की चल संपत्ति और 29.10 करोड़ की अचल संपत्ति है. किंग महेंद्र दवा कंपनी के मालिक हैं.

अखिलेश प्रसाद सिंह
बिहार से कांग्रेस के राज्यसभा प्रत्याशी अखिलेश सिंह की संपत्ति 20 करोड़ की है. इनमें 16.55 करोड़ अचल और 3.27 करोड़ की चल संपत्ति शामिल है. अखिलेश गहनों के शौकीन हैं और उनके पास 350 ग्राम सोना है. अखिलेश सिंह यूपीए -1 के दौरान राजद कोटे से केंद्र में मंत्री रह चुके हैं. बाद में उन्होंने कांग्रेस ज्वाइन कर लिया.

अशफाक करीम
अशफाक करीम को राजद से राज्यसभा प्रत्याशी बनाया गया है. करीम कटिहार मेडिकल कॉलेज के प्रबंध निदेशक (एमडी) हैं . 2017 में पहली बार वह राजद के अधिवेशन के दौरान सदस्य बने और 2018 में उन्होंने राज्यसभा के लिए पर्चा भरा. अशफाक करीम के पास चल संपत्ति छह करोड़ है. वहीं अचल संपत्ति 23.3 करोड़ रुपये है. राजद में आये हुए उनके अभी साल भी पूरे नहीं हुए हैं.

धीरज साहू
दो बार राज्यसभा का सांसद रह चुके धीरज साहू झारखंड में कांग्रेस से प्रत्याशी हैं. उनके पास 18 करोड़ की संपत्ति बतायी जा रही है. उनकी गिनती झारखंड के दिग्गज व्यवसायी में होती है.

प्रदीप कुमार संथोलिया
झारखंड में प्रदीप कुमार संथोलिया को भाजपा ने प्रत्याशी बनाया है. उनके पास 38 करोड़ की संपत्ति है. वह धनबाद में मेयर का चुनाव भी लड़ चुके हैं.

जया बच्चन
यूपी में सपा प्रत्याशी जय बच्चन देश की गिनती नामी अभिनेत्रियों में होती है. 2012 में राज्यसभा सांसद के लिए नामांकन दाखिल किया था तब उन्होंने अपनी और अमिताभ की संपत्ति लगभग पांच अरब रुपये लिखी थी. इस बार उन्होंने 10 अरब लिखी है जो पिछली बार के दोगुना है.

राजीव चंद्रशेखर
टीवी डिबेट के दौरान अकसर भाजपा के समर्थन में अपना पक्ष रखने वाले राजीव चंद्रशेखर ने राज्यसभा चुनाव के लिए नामांकन भरा है. नामांकन के बाद कल वे औपचारिक रूप से भाजपा में शामिल हो गये. राजीव चंद्रशेखर और उनके परिवार की कुल संपत्ति 64.85 करोड़ रुपये की है. बताया जा रहा है कि चंद्रशेखर इस बार नामांकन करने वाले उम्मीदवारों में दूसरे सबसे ज्यादा अमीर प्रत्याशी हैं. बता दें कि राजीव चंद्रशेखर दो बार राज्यसभा सदस्य रह चुके हैं लेकिन किसी पार्टी से पहली बार प्रत्याशी बने हैं.


बीएम फारुख
कर्नाटक में बीएम फारुख जनता दल सेक्यूलर के राज्यसभा प्रत्याशी हैं. उनके पास 765 करोड़ की संपत्ति है. वह कर्नाटक के सबसे अमीर प्रत्याशी हैं. उनका रियल इस्टेट का कारोबार चलता है.

 

There is a similar trend seen in the Rajya Sabha biennial elections for 58 seats.
In the system created to ensure the presence of people of every field, art, literature, journalism, law, social work and business, there are new faces coming in which there are relatively few discussions in the party. Candidates have filled nominations in the Rajya Sabha elections for 58 seats.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here