पीएम मोदी मोकाम से गए पुनपुन क्रूज में फ्रांस के राष्ट्रपति को कराएंगे नौका विहार और गंगा आरती दर्शन

0
146

फ्रांस के राष्ट्रपति के साथ सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी पहुंच रहे हैं. विशेष अतिथि के स्वागत को बाबा विश्वनाथ की नगरी काशी पूरी तरह तैयार है. लेकिन प्रधानमंत्री और फ्रांस के राष्ट्रपति की सुरक्षा को लेकर कार्यक्रम स्थल और चीजों का बदलाव लगातार हो रहा है. गुरुवार को प्रधानमंत्री का बृजरमा पैलस का कार्यक्रम जहां रद्द हुआ. वहीं शुक्रवार को नौका विहार में इस्तेमाल की जाने वाली ‘कैलाशा’ बोट को सुरक्षा की दृष्टि से आउट कर दिया गया. अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रोंन सर्विलांस बोट द्वारा गंगा में नौका विहार करेंगे और गंगा आरती देखेंगे. इसके लिए बिहार के मोकाम से सर्विलांस क्रूज पुनपुन पहुंच चुका है. उसके रंगरोगन का कार्य भी पूरा हो चुका है.

बता दें कि मोरारी बापू के हाउस बोट कैलाश को सुरक्षा कारणों से भारत और फ्रांस की सुरक्षा एजेंसियों ने खारिज कर दिया था. फिर बुधवार की रात जिला प्रशासन के आला अधिकारियों की बैठक के बाद जलमार्ग प्राधिकरण के अत्याधुनिक क्रूज को बिहार से मंगाने पर रजामंदी बनी. मुंबई से स्पेशल मोटरबोट मंगाने पर भी विचार हुआ था लेकिन समय की कमी को देखते हुए जलमार्ग प्राधिकरण का क्रूज मंगाने का निर्णय हुआ. इस वातानुकूलित क्रूज में 20 लोगों के रहने की व्यवस्था है. प्राधिकरण इसका इस्तेमाल विदेशी पर्यटकों को गंगा में भ्रमण कराने के लिए करता है. इसकी अधिकतम गति 35 किलोमीटर प्रतिघंटा है. बनारस पहुंचने के बाद अस्सी घाट के सामने क्रूज की रंगाई-पोताई की जा रही है. क्रूज पर चढ़ने के लिए अस्सी और दशाश्वमेध घाट पर प्लेटफार्म का निर्माण कराया गया है. अस्सी घाट पर मोदी और मैक्रों क्रूज की केबिन में बैठकर गंगा दर्शन करेंगे.

मालूम हो कि 4 दिन की यात्रा पर भारत आए इमैनुएल 12 मार्च को पीएम नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी पहुंचेंगे. यहां वह करीब 7 घंटे का वक्त गुजारेंगे. वह तुलसी घाट पर भगवान राम के राज्याभिषेक देखेंगे. इससे पहले फ्रांसीसी राष्ट्रपति मीरजापुर में 75 मेगावाट के सोलर एनर्जी प्लांट का शुभारंभ कर वाराणसी पहुंचकर सबसे पहले ट्रेड फेसिलटी सेंटर देखने जाएंगे. यहां से जब वह पीएम मोदी के साथ अस्सी घाट के लिए रवाना होंगे तब रास्तें में 150 स्कूलों के 10 हजार स्टूडेंट्स सड़क पर स्वागत करेंगे.

 

Now Prime Minister Narendra Modi and President of France Immanuel Macron will boats in the Ganga by surveillance boat and see Ganga Aarti. For this, Survillance Cruise has reached the march of Bihar. The work of his paintings has also been completed.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here