पढ़िए लालू ने जेल से फोन कर इस शख्स से कहा था, हमारी मदद कीजिए

0
200

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी ने कहा कि उनके मुख्यमंत्री रहते समय जो 34 निर्णय हुए थे वो एनडीए ने पूरे नहीं किए इससे निराश होकर उन्होंने एनडीए छोड़ी है. उन्होंने महागठबंधन में शामिल होने के बारे में कहा कि लालू यादव ने हमें जेल से फोन कर कहा था कि हमारी मदद कीजिए, इसलिए हम महागठबंधन में आए.
बता दें कि जीतनराम मांझी संग्रामपुर में 13वां जिला सम्मेलन कर अररिया में सोमवार को सभा करने जा रहे थे. इसी बीच उन्होंने कुछ देर के लिए भागलपुर में अपने विश्राम के दौरान पत्रकारों से ये बातें कहीं. वह अररिया में मंगलवार को तेजस्वी यादव के साथ सभा को संबोधित करेंगे.
उन्होंने कहा कि हम पार्टी के महागठबंधन में आने के साथ तेजस्वी के साथ एक डील की है कि हम एक कॉमन मिनिमम प्रोग्राम बनाएंगे जिसमें 34 निर्णयों को अनुपालित करेंगे. उन्होंने कहा कि एनडीए में लोग हमारी अहमियत नहीं समझ रहे थे. भाजपा के लोगों ने हमारी 16 सीट पर समानांतर प्रत्याशी खड़े कर दिए थे. ऐसा नहीं करने पर विधानसभा में हमारे पास ये 16 सीटें रहतीं. भाजपा ने ही  हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा (हम) पार्टी को हराया है.
हालांकि मांझी ने कहा कि वह नरेंद्र मोदी के व्यक्तिगत रूप से समर्थक रहे हैं. मैंने उनसे कहा था कि कुछ मुद्दों पर मदद कीजिए जिसमें प्रोन्नति में आरक्षण का मामला था. न्यायपालिका में अनुसूचित जाति के लोगों की संख्या बढ़ाई जाए. अनुसूचित जाति के आरक्षित सीट पर सिर्फ उसी वर्ग के लोगों को वोट का अधिकार हो.
पूर्व कृषि मंत्री के एक बयान पर उन्होंने कहा कि नरेंद्र सिंह ने पहले ही लिखित में कहा है कि वह ‘हम’ पार्टी के सदस्य नहीं रहे हैं तो वह आज उस पार्टी में होने का कैसे दावा कर सकते हैं. पार्टी मेरी है और यह महागठबंधन में शामिल होने का निर्णय 28 जिलाध्यक्षों की सहमति पर हुआ है.
साथ ही उन्होंने अप्रत्यक्ष रूप से नीतीश सरकार पर प्रहार करते हुए कहा कि बिहार के विकास में बहुत गड़बड़ी है. उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा कि भविष्य में यदि तेजस्वी के मुख्यमंत्री बनने की बात होती है और इस पर सबकी सहमति होती है उन्हें कोई ऐतराज नहीं है. आठ अप्रैल को पटना के गांधी मैदान में पार्टी का सम्मेलन होगा. लेकिन इस सम्मेलन के पहले पार्टी के अंदर विभिन्न पदों पर फिर से चुनाव करा लिया जाएगा.

 

 

Former Bihar Chief Minister Jitan Ram Manjhi said that the NDA did not complete the 34 decisions that had taken place during his Chief Minister, leaving him NDA after leaving him disappointed. He said about joining the Maha coalition, that Laloo Yadav had called us from jail and said that help us, so we came to the Maha coalition. Explain that Jitnaram Manjhi was going to the assembly on Monday in Araria in 13th District Conference in Sangrampur. In the meantime, he talked to journalists during his stay in Bhagalpur for a while. He will address the gathering in Araria on Tuesday with the Tejaswi Yadav.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here