PNB Scam: मेहुल चोकसी के 5280 करोड़ के फर्जीवाड़े में ICICI बैंक की CEO चंदा कोचर को समन

0
52

पंजाब नेशनल बैंक-नीरव मोदी घोटाले की रोजाना नई परतें खुल रही हैं. सुरक्षा एजेंसियों की तरफ से कार्रवाई का सिलसिला जारी है, इस बीच एक नया एक्शन लिया गया है. Serious Fraud Investigation Office (SFIO) की तरफ ICICI बैंक की सीईओ चंदा कोचर और एक्सिस बैंक की सीईओ शिखा शर्मा को समन किया गया है.
ये समन पीएनबी घोटाले की राशि 11700 करोड़ रुपए से अलग मामले में भेजा गया है. आरोप है कि करीब 31 बैंकों ने मेहुल चोकसी के गीतांजलि ग्रुप को करीब 5280 करोड़ रुपए का लोन दिया था. इनमें ICICI बैंक के करीब 405 करोड़ रुपए और एक्सिस बैंक की भी एक बड़ी राशि शामिल है. दोनों को आज ही पूछताछ के लिए बुलाया है.
SFIO की तरफ से कहा गया है कि दोनों बैंकों से इस मामले में जानकारी ली जाएगी, दोनों बैंकों के प्रमुख से इसी मामले में पूछताछ की जाएगी. SFIO ने इन दोनों के अलावा पीएनबी के एमडी सुनील मेहता को भी समन भेजा है, उन्हें बुधवार को पेश होने के लिए कहा गया है.

SFIO को शक है कि नीरव मोदी और मेहुल चोकसी ने करीब 400 शैल कंपनियां तैयार की गईं, जिनके डायरेक्टर भी फर्जी थे. इन सभी कंपनियों का इस्तेमाल सारे पैसों को भारत से बाहर पहुंचाने के लिए किया गया. हालांकि, इन सभी में से अभी SFIO की नज़र मुख्य रूप से 110 शेल कंपनियों पर है. सभी कंपनियों की डिटेल्स एकत्रित की जा रही हैं, इसके लिए Registrars of Companies (RoC) की मदद ली जा रही है.
गौरतलब है कि हाल ही में पंजाब नेशनल बैंक घोटाले का खुलासा हुआ था. इसमें हीरा कारोबारी नीरव मोदी के अलावा गीतांजलि ग्रुप के मेहुल चोकसी का नाम आया था. नीरव मोदी पर करीब पीएनबी को 12700 करोड़ रुपए का चूना लगाने का आरोप था. नीरव मोदी ने बार-बार पीएनबी को खत लिख कर कहा था कि वह पीएनबी के पैसे नहीं लौटा सकते हैं.

 

The SFIO has been issuing summons to banks to ascertain the kind of exposure to Nirav modi and Mehul Choksi — how much assets were mortgaged against it, what can be seized and how much loans can be waived off. Axis bank has exposure to both Nirav modi and Gitanjali. It issued LoUs to both too. According to BihariMati Media, Serious Fraud Investigation Office (SFIO) has also summoned Kochhar and Shikha Sharma. More details are still awaited.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here